IIT कानपुर में सिर्फ 8.3 प्रतिशत छात्राओं को गैजुएशन की डिग्री, गुरुवार को दीक्षांत समारोह - manwithtech.com

manwithtech.com

It's all about Gadgets & Technology

Top Ad

test banner

Post Top Ad

Responsive Ads Here

IIT कानपुर में सिर्फ 8.3 प्रतिशत छात्राओं को गैजुएशन की डिग्री, गुरुवार को दीक्षांत समारोह

Share This


देश के प्रतिष्ठित इंजिनियरिंग संस्थान आईआईटी कानपुर में लड़कों के मुकाबले छात्राओं की भागीदारी फिर कमजोर रही है। संस्थान के दीक्षांत समारोह के पहले जारी आंकड़ों के अनुसार, इस साल सिर्फ 8.3 प्रतिशत लड़कियां ही ग्रैजुएशन की डिग्री हासिल करेंगी। जबकि पिछले साल यह संख्या 8.7 प्रतिशत थी। डायरेक्टर अभय करंदीकर के अनुसार, धीरे-धीरे अंतर खत्म किया जा रहा है। छात्राओं का परंपरागत रूप से इंजिनियरिंग में रुझान भी कम होता है।
जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम के जरिए आईआईटी कानपुर में प्रवेश हासिल करने वाली छात्राओं ने बी.टेक, बीएस, एमएससी (पांच साल), डबल मेजर और बैचलर-मास्टर (ड्यूल डिग्री) में सिर्फ 66 लड़कियां गुरुवार को डिग्री हासिल करेंगी। कुल 798 छात्र-छात्राओं में ग्रैजुएट होने वाले लड़कों की संख्या 732 है। बीटेक में सबसे ज्यादा 41 लड़कियां कामयाब हुई हैं। 2017 में 70 छात्राओं को ग्रैजुएट डिग्री से नवाजा गया था।
पीजी और पीएचडी लेवल पर स्थिति बेहतर
इसी तरह पीएचडी में 186 स्टूडेंट्स में 45 लड़कियां, एमटेक में 307 में 64 लड़कियां और एमएस में 25 में 2 लड़कियां सफल हुई हैं। ग्रैजुएट के साथ पीजी और पीचएडी लेवल की संख्या जोड़ ली जाए तो 13.44 प्रतिशत लड़कियां सफल हुई हैं। आईआईटी कानपुर के निदेशक का कहना है कि पीजी और पीएचडी लेवल पर स्थिति बढ़िया है। इस साल जेईई में छात्राओं के लिए विशेष रूप से बनाई गईं सीटों से अगले कुछ साल में अंतर दिखेगा।
दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे राष्ट्रपति
बता दें कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गुरुवार को आईआईटी के 51वें दीक्षांत समारोह में शिरकत करेंगे। उनके साथ् देश की प्रथम महिला सविता कोविंद और राज्यपाल रामनाईक भी रहेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ की अनुपस्थिति में उनके प्रतिनिधि के तौर पर कैबिनेट मंत्री सतीश महाना मौजूद रहेंगे। संस्थान प्रशासन के मुताबिक, एक घंटे के कार्यक्रम में राष्ट्रपति कई अवॉर्ड देंगे। शाम तक दो सत्रों में सभी छात्र-छात्राओं को डिग्रियां दी जाएंगी। इसके बाद राष्ट्रपति आईआईटी गेस्ट हाउस में सेंटर फॉर सोशल रेस्पॉन्सिबिलिटी एंड लीडरशिप के सुपर-30 छात्रों से मिलेंगे।

No comments:

Post a Comment

vertical posts

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages